History of computer | Generation of Computer की पूरी जानकारी Hindi में -

History of computer | Generation of Computer in Hindi

यह आर्टीकल कंप्यूटर का इतिहास History Of Computer In Hindi के बारे में है।

इस पोस्ट में कंप्यूटर बनने का रोचक इतिहास और कंप्यूटर जनरेशन की बात करेंगे।शुरुआती कंप्यूटर एक बड़े कमरे के आकार के होते थे। वर्तमान में कंप्यूटर आपके हाथ मे है जिसे मोबाइल कहते है। कंप्यूटर को वर्तमान स्वरूप में आने के लिए कई जनरेशन से गुजरना पड़ा था। तो आइए दोस्तो कंप्यूटर का इतिहास और “कंप्यूटर का आविष्कार किसने किया” जानते है।

History of Computers and Their Evolution From 1st to 5th Generation

कंप्यूटर की प्रत्येक Generation को एक major technological development की विशेषता होती है जो कंप्यूटर के काम करने के तरीके को विशेष रूप से बदल देता है, जिसके परिणामस्वरूप तेजी से  smaller, cheaper, more powerful and more efficient और  reliable devices. होते हैं।

कंप्यूटर का इतिहास [Computer History In Hindi] 

 Computer शब्द की उत्पत्ति अंग्रेजी के “कम्प्यूट” शब्द से हुई है। प्रारंभिक कंप्यूटर या यह कहिये की दुनिया का प्रथम कंप्यूटर ENIAC था। इसका पूरा नाम “इलेक्ट्रॉनिक न्यूमेरिकल इंटेग्रेटर एंड कंप्यूटर” था। इस कंप्यूटर को वर्ष 1946 में बनाया गया था।

इस प्रारंभिक कंप्यूटर से पहले की बात करे तो गणना करने के लिए…

PPT - History of Computers PowerPoint Presentation, free download ...

Computer में जिस मशीनी भाषा का इस्तेमाल किया जाता है, उसका आधार 0,1 है। प्रथम कंप्यूटर में इसी कोडिंग का उपयोग किया गया था। प्रथम कंप्यूटर के बनने से लेकर आज के आधुनिक कंप्यूटर के आने तक कंप्यूटर ने काफी विकास किया है। आधुनिक कंप्यूटर की शुरुआत पास्कलाइन से मानी जाती है। इसे ब्लेज पास्कल नामक गणितज्ञ ने बनाया था। यह एक तरह का यांत्रिक कैलकुलेटर था।

कंप्यूटर की Various Generations नीचे दी गयी हैं:

अब आइये दोस्तों Computer के gradual development और कंप्यूटर जेनरेशन Generation Of Computer In Hindi के बारे में जानते है।

कंप्यूटर की कुल 5 पीढियां (Generation) है।

 

 

  1. प्रथम पीढ़ी (First Generation) –

    इस पीढ़ी के कंप्यूटर आकार में एक बड़े कमरे के बराबर होते थे। इस कंप्यूटर के मुख्य उपकरण वैक्यूम ट्यूब और मैग्नेटिक ड्रम थे। यह कंप्यूटर ऊष्मा का अधिक उत्सर्जन करता था। इसलिये इस कंप्यूटर को कूलिंग की ज्यादा आवश्यकता थी और रखरखाव पर अधिक खर्चा होता था। इस कंप्यूटर में मशीनी भाषा 0 और 1 का उपयोग किया गया था। यह एक साधारण गणितीय गणना करने वाला इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस था। इस पीढ़ी का पहला कंप्यूटर ENIAC था।CSIRAC: The Only First-Generation Computer Still in Existence

  2. दूसरी पीढ़ी (Second Generation) –

    इस जेनरेशन का मुख्य कंपोनेंट ट्रांज़िस्टर था। वैक्यूम टयूब के स्थान पर ट्रांज़िस्टर का उपयोग किया जाने लगा। यह पहली पीढ़ी की तुलना में आकार में छोटा और तेज गति से कार्य करने वाला था।Evolution of Computer Hardware timeline | Timetoast timelines

  3. तीसरी पीढ़ी (Third Generation) –

    इस पीढ़ी में आईसी IC (इंटीग्रेटेड सर्किट) चिप का इस्तेमाल शुरू हुआ था। इसके कारण बड़े ट्रांज़िस्टर की जगह एक छोटी चिप ने ले ली थी। इस चिप पर कई ट्रांज़िस्टर होते थे। इस पीढ़ी में ही की-बोर्ड और मॉनिटर का इस्तेमाल शुरू हुआ था। यह बहुत छोटे आकार का कंप्यूटर था। इसकी क्षमता दोनों पीढ़ियों के कंप्यूटरों से बहुत ज्यादा थी। इसी पीढ़ी के कंप्यूटर का इस्तेमाल घरेलू स्तर पर प्रारम्भ हुआ था।Generation of Computer | professorprahlad

  4. चौथी पीढ़ी (Fourth Generation) –

    इस पीढ़ी के कंप्यूटर को डेस्कटॉप और पर्सनल कंप्यूटर भी कहते है। माइक्रोप्रोसेसर की शुरुआत इसी पीढ़ी से हुई थी। हजारो आईसी को एक सिलिकॉन चिप पर लगाकर माइक्रोप्रोसेसर बनाया गया था। ये कंप्यूटर अधिक क्षमता और तेज गति वाले थे। इस पीढ़ी के कंप्यूटर में तकनीक को VLSI (Very Large Scale Integration) कहा जाता है। Fourth Generation of Computer from 1971 to present | Hardware and ...

  5. पांचवी पीढ़ी (Fifth Generation) –

    यह अत्याधुनिक कंप्यूटर पीढ़ी है। इस पीढ़ी के कंप्यूटर में ULSI (Ultra Large Scale Integration) तकनीक का इस्तेमाल किया जा रहा है। ये कंप्यूटर आर्टिफिशियल इंटलीजेंस AI पर आधारित है। इस तरह के कंप्यूटर रोबोट्स में देखे जा सकते है।🥇 ▷ History of the Fifth Generation Computer and Its ...

वर्तमान में  Computer अपने उत्कृष्ट स्थान को पा चुका है। कंप्यूटर का स्थान धीरे धीरे मोबाइल ले रहा है।

एक स्मार्ट-फोन कंप्यूटर ही है। आज की दुनिया बिना कंप्यूटर के संभव नही है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here