Internal-linking

एक ही Domain पर एक पेज को दूसरे पेज से लिंक करना Internal Linking कहा जाता है। यह आपकी वेबसाइट पर एक पेज को दूसरे पेज से जोड़ता है।

आपने कई वेबसाइट को नयी पोस्ट में पुराने पोस्ट या Valuable posts को लिंक करते हुए देखा होगा।

SEO के लिए Internal Links क्यों महत्वपूर्ण हैं?

Internal links गूगल को आपकी साइट पर पेज को खोजने, Index करने और समझने में मदद करते हैं। और साथ ही Website SEO में सुधार करते है ।

आसान शब्दों मे, गूगल में अच्छी रैंक करने के लिए Internal linking महत्वपूर्ण है।

यहाँ Internal linking के कुछ लाभ दिए गए है:

1. आपकी कंटेंट को और अधिक जानकारीपूर्ण बनाता

यह सर्च इंजन और Users को आपकी वेबसाइट के valuable pages के बारे में बताता है।

Internal linking आपके पोस्ट को Users के लिए अधिक जानकारीपूर्ण बनाता हैं और यह विजिटर को एक पेज से दूसरे पेज पर जाने में भी मदद करता है।

Google उन पेज को टॉप रैंक प्रदान करता है जो यूजर के लिए उपयोगी होती हैं।

2. बेहतर Crawl और Index में मदद करते है

जब आपका ब्लॉग नया होता है, तो सर्च इंजन आपकी वेबसाइट या ब्लॉग को जल्दी से इंडेक्स नहीं करता है। इसलिए इंटरनल लिंकिंग बहुत जरूरी है।

Google Analytics क्या है और कैसे Setup by step करें ?

जब सर्च इंजन क्रॉलर आपकी वेबसाइट पर आते हैं, तो वे साइट Structure समझने, content किस बारे में है और Better index के लिए Links को फॉलो करते हैं।

हमेशा Strong और स्मार्ट तरीके से Internal Linking करें ताकि क्रॉलर आपकी साईट को Deeply क्रॉल करें।

Internal Linking गूगल जैसे सर्च इंजन के लिए एक बेहतर Crawling और indexing experience प्रदान करता है।

अगर क्रॉल करने में आसनी होगी, तो SERPs में बेहतर रैंक होगी।

3. पुरानी पोस्ट की रैंक और Pageviews बढाता है

Internal link आपके पुराने पोस्ट को लिंक जूस पास करता है, जो रैंकिंग में सुधार करता है। साथ ही आपकी पुरानी पोस्ट की Pageviews को भी बढ़ाता है।

यदि आप लंबे समय से ब्लॉग चला रहे हैं, तो आपके पास बड़ी संख्या में ब्लॉग पोस्ट होगी, और आपकी पुराने पोस्ट अब उतनी अच्छी ट्रैफ़िक और रैंकिंग प्राप्त नहीं कर पा रही होगी।

लेकिन, internal linking और भी पढ़ने का आप्शन देता है। यदि आपके पास एक पुराना आर्टिकल है जो रीडर को बहुमूल्य जानकारी प्रदान कर सकता है, तो इसे अपने नए आर्टिकल से लिंक करें।

4. Bounce Rate कम करता है

Bounce rate SEO का एक महत्वपूर्ण पहलू है। यदि विज़िटर आपकी पोस्ट पर आते है और तुरंत बाहर निकल जाता है तो आपकी साइट की बाउंस दर बढ़ जाती है। यह आपकी Website SEO और सर्च इंजन रैंकिंग को प्रभावित करती है।

बेहतर SEO के लिए, बाउंस रेट बहुत महत्वपूर्ण है और Internal linking बाउंस रेट कम करने का सबसे अच्छा तरीका है। यह विजिटर को लंबे समय तक वेबसाइट पर रोके रखने में मदद करता है।

Internal linking कैसे करे

1. Keyword-Rich Anchor Text का उपयोग करें

यदि आप internal links से अधिक लाभ प्राप्त करना चाहते हैं तो Anchor Text का उपयोग करें।

यहां तक कि, गूगल Anchor Text में कीवर्ड उपयोग करने की सलाह देता है । यह यूजर को नेविगेट करने और Google को समझने में मदद करता है आप जिस पेज से लिंक कर रहे हैं वह किस बारे में है।

Proper anchor text के साथ, users और सर्च इंजन आसानी से समझ सकते हैं कि लिंक किए गए पेज क्या (किस बारे में) हैं।

यहाँ Anchor text पर लिंक करने के लिए Quick गाइड है:

  • जब आप लिंक के लिए Anchor text का उपयोग करते हैं, तो वह Descriptive और Understandable होना चाहिए।
  • हमेशा Short text का उपयोग करें – आमतौर पर कुछ शब्द या एक छोटा वाक्यांश (phrase)।
  • “पेज”, “आर्टिकल”, या “यहां क्लिक करें” Words Anchor text के लिए उपयोग न करें।

2. Important Pages से लिंक करें

जब आप अपनी साइट पर किसी अन्य पेज से लिंक करते हैं, तो यह उस पेज का लिंक जूस पास करता है और उस पेज को Google में रैंक करने में मदद करता है।

इसीलिए हमेशा अपने Important pages को जितना हो सकें उतना लिंकिंग करें।

अपने high-authority pages के साथ अपनी नई पोस्ट को लिंक करें। इससे आपको अच्छा लाभ मिलेगा। और आपको Backlinks प्राप्त करने में भी मदद करता है।

3. अपने कंटेंट के शुरुआत में Internal Linking करे

जब आप अपनी कंटेंट की शुरुआत में एक Internal link जोड़ते हैं, तो यह Bounce rate को कम करने और Dwell Time को बेहतर बनाने में मदद करता है।

आप अपने पेज के शुरुआत में 1-2 इंटरनल लिंक जोड़कर, विजिटर को तुरंत क्लिक करने की अनुमति दे सकते हैं।

जिसका अर्थ है कि वे आपकी साइट पर अधिक समय तक रहेंगे।

इसके अलावा, आप देख सकते हैं, मैंने साइडबार और Footer में टॉप पोस्ट Add करके रखा है।

4. Dofollow Links का उपयोग करें

यदि आप अपनी साइट के अन्य पेज को Internal links के माध्यम से SEO value देना चाहते हैं, तो आपको Dofollow Links का उपयोग करना होगा।

मैंने कई ब्लॉगर्स को देखा है जो internal links के लिए no-follow tags का उपयोग करते हैं। यह बिलकुल गलत है।

Internal Linking में क्या नहीं करना चाहिए

Automatic internal linking टूल या प्लगइन का उपयोग नहीं करना चाहिए। ये अच्छे नहीं होते है। यहाँ कुछ कारण हैं:

  • प्लगइन्स और टूल्स बिना समझे Internal Linking करते है – किस पेज को सबसे अधिक juice की आवश्यकता होती है या लिंक करने के लिए कौन सा पेज सबसे अच्छा है।
  • आपकी साइट के Size पर, प्लगइन रातोंरात 1k + Exact match anchor text internal links बना सकता है। जो आपकी साइट को पेनल्टी की ओर ले जाता है।
  • Internal linking यूजर को आपकी साइट पर Related content पर navigate करने में मदद करती है। लेकिन, प्लगइन्स Internal Links जोड़ने के लिए कभी नहीं सोचते हैं कि कंटेंट रिलेटेड है या नहीं!

आखरी सोच

यहाँ मैंने आपको बताया है SEO के लिए Internal Linking क्यों और कैसे करें।

आप इन Llink building strategies को अपनाकर अपनी वेबसाइट SEO, Pageviews, Ranking और Bounce rate को आसानी से Improve कर सकते है।

लेकिन एक बात ध्यान रखें कि Internal links Strong और रिलेटेड होने चाहिए।

अगर यह आर्टिकल आपके लिए हेल्पफुल साबित हुई है, तो इसे शेयर करना न भूलें!


इसे भी पढ़ें:

40 Google रैंकिंग Factors 2020 in Hindi

Website Ki Speed Kaise Check Kare ?

SEO क्या होता है?

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here