CPU क्या है और इसके कार्य Hindi में जानें।

यह आर्टिकल What Is CPU In Hindi सीपीयू क्या है, CPU के कार्य और Part Of CPU In Hindi के बारे में हैl सीपीयू को कंप्यूटर का दिमाग भी कहते है। सीपीयू का पूरा नाम “सेंट्रल प्रोसेसिंग यूनिट” (Central Processing Unit) है। सीपीयू के बिना कंप्यूटर कार्य नही कर सकता है। यह कंप्यूटर को कंट्रोल और मैनेज करता है। यूजर कंप्यूटर को Instruction देता है जिसे CPU प्रोसेस करता है। कंप्यूटर की गति कितनी होगी, यह सीपीयू पर निर्भर करता है।

कम्प्यूटर को अपना काम करने के लिए विभिन्न अलग-अलग उपकरणों की आवश्यकता पड़ती है l यह अपना काम अकेला नही कर सकता है l क्योंकि, कम्प्यूटर किसी अकेली मशीन का नाम नहीं है l यह तो बहुत सारे डिवाइसों से मिलकर बने एक डिवाइसों का समूह का नाम है l

इन्ही महत्वपूर्ण उपकरणों में एक और परिचित नाम शामिल है जिसका नाम है – CPU , जिसका नाम एक साधारण कम्प्यूटर यूजर भी जानता है l

अब आपके मन में सवाल आ सकते है कि ये CPU क्या होता है? CPU कैसे काम करता है? और CPU के पार्ट्स क्या-क्या होते है?

तो चिंता मत कीजिए आज इन्ही सवालों का जवाब आपको मिलने वाला है l क्योंकि इस Article को इन्ही जवाबों को देने के लिए तैयार किया गया है l

What's the difference between i3, i5, and i7 processors? - Ask Leo!

CPU क्या है (What is CPU) ?

CPU एक यूनिट है जिसमें प्रोसेसर आता है या सीपीयू को प्रोसेसर Processor भी कहते है। प्रोसेसर गति और क्षमता के आधार पर अलग अलग आते है। CPU की गति कोर में मापी जाती है। जितने ज्यादा कोर CPU के होंगे, उतनी ज्यादा क्षमता CPU की होगी। शुरुआत में सिंगल कोर प्रोसेसर आते थे जिनकी प्रोसेसिंग गति धीमी होती थी। वर्तमान में Core 3, Core 5 जैसे प्रोसेसर आते है जो फ़ास्ट स्पीड के होते है। सिंपल वर्ड में कहे तो कंप्यूटर पर जितने भी कार्य किये जाते है वो CPU की मदद से ही किये जाते है। तो आइए जानते है कि सीपीयू क्या है –

CPU कम्प्यूटर का महत्वपूर्ण भाग है जिसे प्रोसेसर, माइक्रोप्रोसेसर और केवल सीपीयू भी कहते है l सीपीयू कम्प्यूटर से जुड़े सभी हार्डवेयर, सॉफ्टवेयर, यूजर्स तथा इनपुट डिवाइसों से प्राप्त डेटा एवं निर्देशों को संभालता है, और उसे प्रोसेस करके परिणाम देता है l ऑपरेटिंग सिस्टम एवं अन्य प्रोग्रामों का संचालन भी करता है l यह कम्प्यूटर का दिमाग है l

सीपीयू का पूरा नाम “सेंट्रल प्रोसेसिंग यूनिट” है जो प्रोसेसिंग हार्डवेयर है। यह कंप्यूटर में अर्थमेटिक (Arithmetic) और लॉजिकल (Logical) गणना जैसे विभिन्न टास्क परफॉर्म करता है। यूजर कंप्यूटर में डेटा को Input करता है। CPU डेटा को रिसीव करके प्रोसेस करता है और डिजायर Output देता है।

यह कम्प्यूटर पार्ट्स मदरबोर्ड में लगा रहता है जिसे सीपीयू फैन के नीचे देखा जा सकता है l इसके अन्य पार्ट्स जैसे ALU, Cache Memory, Registers तथा FPU भी इसी के अंदर होती है l

आमतौर पर जानकारी के अभाव में, खासकर नए कम्प्यूटर यूजर्स सीपीयू को ही कम्प्यूटर समझने लगते है l मगर, ये गलत है l सीपीयू तो कम्प्यूटर के एक छोटा-सा जरूरी पार्ट्स होता है l

CPU के भाग Parts Of CPU In Hindi – 

सीपीयू में तीन मुख्य भाग होते है, CPU अपना कार्य तीन सहायक उपकरणों की सहायता से पूरा करता है l जिनके नाम नीचे दिये जा रहे हैं –

Computer - CPU(Central Processing Unit) - Tutorialspoint

  1. Memory
  2. Control Unit
  3. Arithmetic Logic Unit (ALU)

1. Memory

मेमोरी को आप कम्प्यूटर का गोदाम या भंडार ग्रह भी समझ सकते हैं l इसमे Data को Store किया जाता है l CPU प्राप्त निर्देशों और डाटा को पहले अपनी स्मृति में भंडारित करता है और फिर दुबारा Data को Process करने के बाद भी उसे मेमोरी में ही स्टोर करता है l जिसे यूजर कभी इस्तेमाल कर सकता है l

इस कार्य के लिए कम्प्यूटर अलग-अलग मेमोरी काम मे लेता है l जिस मेमोरी में Unprocessed Data (Input) रखा जाता है, उसे प्राथमिक मेमोरी (RAM) कहा जाता है l और जिस मेमोरी में Processed Data (Output) भेजा जाता है उसे द्वितीयक मेमोरी (ROM) कहा जाता है l

2. Control Unit

कंट्रोल यूनिट (Control Unit) जिसे CU भी बोलते हैं कम्प्यूटर का मैनेजर होता है l जो सभी Operations को नियत्रिंत करता है l Control Unit मेमोरी, लॉजिकल युनिट, इनपुट & आउटपुट डिवाइसों को बताता है कि किसी प्रोग्राम से प्राप्त निर्देशों का किस प्रकार पालन करना है l

यह मेमोरी से निर्देश प्राप्त करती है और उसे Decode करके Central Processor को भेज देती है l फिर उस Particular Event को Process करते हैं, और यह Process चलती ही रहती है l

3. Arithmetic Logic Unit (ALU)

इस Processor Part यानि ALU का पूरा नाम Arithmetic Logical Unit है l यह यूनिट सिर्फ दो कार्य करती हैं l पहला डाटा पर गणितिय क्रिया करना, और दूसरा, परिणाम देना l ALU, CPU की सबसे Complex और Important Part इकाई होती हैं l

Arithmetic Logical Unit गणितीय क्रियाओं में जोड, घटाव, गुणा, भाग आदि करता है l और निर्णय देने के लिए डाटा का मिलान, तुलना करना, छांटना आदि कार्य करता है l फिर किसी निर्णय पर पहुँचता है l जिसे Output कहा जाता है l एक काम पूरा होने के बाद पुन: दूसरा काम करने के लिए यह प्रक्रिया दोहराई जाती है l

CPU के कार्य Functions Of CPU In Hindi –

Notes on Components of Computer System: Input, output, Processor ...

सीपीयू कैसे कार्य करता है? इसका उत्तर एक example से आप समझ सकते है। आप कंप्यूटर में कीबोर्ड के माध्यम से अल्फाबेट टाइप करते है। आपके द्वारा टाइप किया गया अल्फाबेट मॉनिटर पर शो होता है। यह कार्य बहुत तेजी से होता है जो माइक्रोप्रोसेसर के द्वारा किया जाता है। माइक्रोप्रोसेसर डेटा को प्रोसेस करके एक्सीक्यूट करता है।

CPU के कार्य – इनपुट – प्रोसेस – आउटपुट

सीपीयू इनपुट डाटा को Fetch करके Decode करता है। इसके बाद उस डाटा को Execute कर देता है। यह डेटा मॉनिटर पर Output के रूप में दिखाई देता है। इसका अर्थ यह है कि CPU डाटा को इनपुट से आउटपुट में चेंज करती है। Fetch का अर्थ डाटा को रिसीव करना होता है। इनपुट से आये डेटा को सीपीयू रिसीव करता है। Decode का अर्थ प्राप्त डेटा निर्देशों की व्याख्या करना होता है। प्रोसेसर यह निर्धारित करता है कि डेटा पर क्या करना है। Execute का अर्थ डाटा का आउटपुट देना होता है।

  • CPU का मुख्य कार्य डेटा को एक्सीक्यूट करना होता है। यह सभी प्रकार के डाटा प्रोसेसिंग के कार्य करता है।
  • यह कंप्यूटर के सभी हार्डवेयर को मैनेज और कंट्रोल करता है। इन सभी हार्डवेयर से सबंधित कार्यो को पूरा करता है।

CPU Cores क्या होते हैं  –

प्रत्येक सीपीयू कम से कम एक प्रोसेसर से बनता है जो सभी प्रोसेसिंग करता है l बहुत दिनों तक सीपीयू को सिंगल प्रोसेसर से ही काम चलाना पड़ा है lइस प्रोसेसर को ही प्रोसेसिंग कोर कहते है lसमय के साथ एडवांस टेक्नोलॉजी ने एक सीपीयू को मल्टीकोर (प्रोसेसर) का इस्तेमाल करने लायक बनाया l

NVIDIA Reveals Kal-El's Fifth "Companion" CPU Core | HotHardware

आज, एक अकेला सीपीयू एक से ज्यादा प्रोसेसर्स से युक्त हो सकता है l इन प्रोसेसर की संख्याओं के आधार पर ही सीपीयू का नामकरण किया जाने लगा है l

CPU कार्य और गति के आधार पर विभाजित किये जाते है। CPU जितना फ़ास्ट होगा वो उतनी ही जल्दी से प्रोग्राम को एक्सीक्यूट करेगा। CPU की परफॉर्मेंस इसकी प्रोसेसिंग टाइम पर निर्भर करती है।

  • Single Core CPU सबसे पुराने सीपीयू है। शुरुआती कंप्यूटर में सिंगल कोर का इस्तेमाल किया जाता था। इस प्रकार के CPU में मल्टीटास्किंग करना मुश्किल था। यह एक बार मे एक टास्क को पूरा करते है। कंप्यूटर पर कार्य करने में बहुत समय लगता था।
  • Dual Core CPU में दो कोर होते है। इसमें दो CPU एक सिंगल चिप पर मौजूद होते है। इसमे मल्टीटास्किंग करना बहुत easy है। यह सिंगल core से बहुत फ़ास्ट होते है। जिस सीपीयू में दो प्रोसेसर होते है, और उसे Dual-Core प्रोसेसर कहते है l आपने कम्प्यूटर स्टोर में सेलर को कहते सुना होगा कि यह ड्यूल-कोर प्रोसेसर है l तब वह इसी की बात कर रहा होता है l Intel Pentium Dual Core Processors इसी श्रेणी के प्रोसेसर है l
  • Quad Core CPU में चार कोर का इस्तेमाल मल्टिटास्किंग के लिए किया जाता है। ये CPU ज्यादा फ़ास्ट होते है। हाई क्वालिटी गेमिंग और एडिटिंग करने के लिए इन CPU का उपयोग करते है। वह सीपीयू जो चार प्रोसेसरों से मिलकर बना होता है, उसे Quad-Core प्रोसेसर कहते है l Intel i5 Processors  Quad Core प्रोसेसर में गिने जाते है l
  • Hexa-Core – अब तो आपको भी अंदाजा लग गया होगा कि हम कितने प्रोसेसर बताने वाले है. आपने सही पकड़ा है छह. जिस सीपीयू में छह प्रोसेसर होते है उसे हेक्सा-कोर प्रोसेसर कहते है. Intel i5 के कुछ प्रोसेसर तथा Intel i7 Processors इस श्रेणी के प्रोसेसर्स है.
  • Octa-Core – सीपीयू में आठ प्रोसेसर होना उसे ओक्टा-कोर प्रोसेसर बनाता है. Intel i7 Processors श्रंख्ला के 9th Generation के बाद के प्रोसेसर इस श्रेणी में गिने जाते है.
  • आजकल Octa Core, Hexa Core CPU का भी इस्तेमाल करते है। ये सबसे फ़ास्ट CPU है l जो मल्टीटास्किंग को आसानी और तेजी से पूरा करते है।

प्रोसेसर एक सेकंड में कितनी संख्या में निर्देशों को प्रोसेस करके एक्सीक्यूट करता है, इसे CPU की क्लॉक स्पीड कहते है। यह गीगाहर्टज GHz में मापी जाती है। CPU 1 GHz, 2.0 GHz, 3.0 GHz इत्यादि की गति में आते है। सीपीयू की स्पीड और परफॉर्मेंस उसकी गीगाहर्टज क्षमता में मापी जाती है। जितने ज्यादा गीगाहर्टज का प्रोसेसर होगा, उतना ही वो शक्तिशाली होगा।

CPU कंप्यूटर में मदरबोर्ड पर स्थित होता है। मदरबोर्ड पर CPU एक खांचे में कनेक्टर्स के जरिये फिट होता है जिस पर एक लिवर की होती है। CPU चलने पर हीट उत्पन्न करता है। इसलिए इसपर एक कूलिंग फैन लगा होता है। CPU दिखने में एक वर्ग की तरह साइज में Small होता है। कंप्यूटर की तरह ही मोबाइल में भी प्रोसेसर होता है। मोबाइल के मुख्य प्रोसेसर में क्वालकॉम स्नैपड्रैगन प्रोसेसर, मीडिया टेक प्रोसेसर आते है। मोबाइल के प्रोसेसर भी अलग अलग क्षमताओं के होते है।


 

MY FACT-

CPU की मेमोरी में इंस्ट्रक्शन यानी कि निर्देशो को स्टोर किया जाता है। DATA तब तक प्रोसेस नही हो जाता,जब तक Memory Unit में ही रहता है। इस मेमोरी यूनिट को रैम कहते है। यह Unprocessed इनपुट डेटा होता है। ROM में Processed डेटा का भंडारण होता है। कंट्रोल यूनिट का कार्य कंप्यूटर के सभी हार्डवेयर को कार्य करवाना होता है। यह उन्हें कंट्रोल करती है। इनपुट और आउटपुट डिवाइसेस के मध्य Communicate करने के लिए Control Unit होती है। यह डेटा को ना तो प्रोसेस करती है और न ही स्टोर करती है। इसका कार्य कंप्यूटर में होने वाले सभी ऑपरेशन को नियंत्रित करना होता है। ALU का मुख्य कार्य अंकगणित और तार्किक गणना से सबंधित कार्यो को प्रोसेस करना होता है। जोड़ना, घटाना,गुणा और भाग जैसी गणनाए यह यूनिट करती है। ALU लॉजिक का कार्य जैसे कि डेटा को सेलेस्ट करना, तुलना करना, डेटा को मैच करना होता है। इसके बाद ALU आउटपुट देती है।

सीपीयू का मुख्य घटक माइक्रोप्रोसेसर (Microprocessor) होता है जो सिलिकॉन चिप पर बना होता है। चिप पर लाखों की संख्या में ट्रांसिस्टर्स को इंटेग्रेटेड किया जाता है। माइक्रोप्रोसेसर कंप्यूटर के विभिन्न प्रोग्राम्स को Execute करता है। CPU के ट्रांसिस्टर्स को ज्यादा से ज्यादा छोटा और efficient बनाने का प्रयास होता है। Processor एक लॉ पर कार्य करता है कि कम जगह पर अधिक से अधिक ट्रांसिस्टर्स आ सके। इससे चिप की साइज छोटी हो जाती है। यह मूरे लॉ कहलाता है। CPU निर्माता कम्पनियाँ इसी Law को मध्य-नजर रखकर इसका निर्माण करती है। आगे भविष्य में भी सीपीयू की साइज और छोटी होती जाएगी।

सीपीयू को आपके कार्य के आधार पर खरीदना चाहिए। नार्मल कार्य के लिए ड्यूल कोर प्रोसेसर उपयुक्त रहता है। अगर आपको इमेज एंड वीडियो एडिटिंग जैसे कार्य करने है जिसमे स्पीड महत्व रखे तो प्रोसेसर हायर वर्जन का होना चाहिए। मार्किट में कई सारी कम्पनियां CPU का निर्माण करती है। इनमें Intel और IMD प्रमुख है। इंटेल कम्पनी सीपीयू के Core3, Core5 और Core7 जैसे वर्जन बना चुकी है। Core 7 CPU बाकी के वर्जन से ज्यादा पॉवरफुल है।

Note-अक्सर लोग सीपीयू तथा प्रोसेसर को एक ही मान लेते है जो गलत है lअसल में सीपीयू के भीतर प्रोसेसर मौजूद होता है, जो प्रोसेसिंग युनिट कहलाती है. इसे ही कोर भी कहते है l एक सीपीयू के अंदर मल्टीकोर स्थित हो सकते है l

उम्मीद करता हूं दोस्तों आपको यह Article पसंद आया होगा और इसे आपको जरूर मदद मिली होगी तो अगर आपको हमारा आर्टिकल पसंद आता है तो उसे सोशल मीडिया पर अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें और आप कोई सवाल है तो हमे कमेंट करें !

हर जानकारी अपनी भाषा हिंदी में सरल शब्दों में प्राप्त करने के हमारे फेसबुक पेज को लाइक करे जहाँ आपको सही बात पूरी जानकारी के साथ प्रदान की जाती है हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहाँ Click करें l


यह भी पढ़ें-

Basic Computer Components की जानकारी Hindi में ।

History of computer | Generation of Computer की पूरी जानकारी Hindi में l

सॉफ्टवेयर क्या होता है – What is Software(In Hindi)?

कम्प्युटर के फायदे और नुकसान हिंदी में।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here